Badhaai Ho stars remember Surekha Sikri, Ayushmann Khurrana said- ‘she told me, I wish I could get more work’ | ‘बधाई हो’ के स्टार्स ने किया सुरेखा सीकरी को याद, आयुष्मान खुराना बोले-‘उन्होंने मुझसे कहा था, काश मुझे और काम मिले’

टॉप न्यूज़

2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड और टेलीविजन की जानी-मानी अभिनेत्री सुरेखा सीकरी के निधन से उनके को-स्टार्स गमगीन हैं। सुरेखा के साथ काम कर चुके कई स्टार्स ने सोशल मीडिया पर उन्हें याद किया है। फिल्म बधाई हो में उनके साथ काम कर चुके आयुष्मान खुराना, गजराज राव और नीना गुप्ता ने भी सोशल मीडिया पर एक लंबी चौड़ी पोस्ट लिखकर सुरेखा सीकरी को श्रद्धांजलि दी है। बता दें कि 2018 में आई बधाई हो के लिए सुरेखा सीकरी को बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड मिला था।

आयुष्मान से कहा था-‘काश मुझे और काम मिले’

आयुष्मान ने सुरेखा सीकरी के साथ अपनी दो तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, हर फिल्म में हमारी एक फैमिली होती है जिसके साथ हम अपनी फैमिली से ज्यादा वक्त बिताने लग जाते हैं। ऐसी ही एक खूबसूरत फैमिली बधाई हो की थी। ये एक परफेक्ट फैमिली थी जिसकी हेड सुरेखा सीकरी थीं जो कि मस्तमौला थीं और उनका दिल जवान था। मुझे याद है जब बधाई हो की स्क्रीनिंग से हम वापस लौट रहे थे तो मैंने उनसे कहा था-मैम हमारी फिल्म की आप ही रियल स्टार हैं और उन्होंने कहा था, काश मुझे और काम मिले। ये सुनकर मैं और ताहिरा निशब्द रह गए थे। आप लीजेंड थीं और हमेशा मिस की जाएंगी सुरेखा मैम।

‘दिल से बच्ची थीं सुरेखा जी’

गजराज राव ने लिखा, फिल्म बनाना एक ट्रेन में सफर करने जैसा होता है जहां यात्रा ही अपने आप पड़ाव बन जाती है। आप तरह-तरह के सह-यात्रियों से मिलते हैं। कोई अपना डिब्बा और अपना दिल आपके लिए खोल देते हैं तो कोई अपने सामान की रखवाली करते हुए आपको संदेह की दृष्टि से देखते हैं। बधाई हो मेरे लिए वही स्पेशल ट्रेन जर्नी रही होगी जो मेरे लिए जिंदगी का नया स्टेशन लेकर आई। मैं खुश हूं कि हमें सुरेखा जी का साथ मिला। वह दिल से बच्ची थीं और अपने कद और बतौर एक्ट्रेस अंतहीन अनुभव पर उन्हें कोई घमंड नहीं था। एक अभिनेत्री के तौर पर उनके रियाज़ और बच्चों जैसे उत्साह ने उन्हें बेहतरीन बनाया था।

सुरेखा जी जैसी एक्ट्रेस बनना चाहती थी-नीना

बधाई हो की एक्ट्रेस नीना गुप्ता ने भी सोशल मीडिया पर सुरेखा को याद करते हुए एक वीडियो में कहा, आज सुबह मुझे बुरी खबर मिली कि सुरेखा जी नहीं रहीं। जब मैं नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा में स्टूडेंट थी तो मैं उन्हें देखकर सोचती थी कि मुझे उनके जैसी एक्ट्रेस बनना है। ये बहुत पहले की बात है। फिर हमें बधाई हो में काम करने का मौका मिला और उससे पहले सलोनी में हमने साथ काम किया। मैं देखती थी कि वह अपने सीन पर कैसे काम करती हैं। मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा और उनसे बहुत कुछ सीखना बाकी था।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *