BMC prepares to demolish part of Bollywood Actor Amitabh Bachchan’s Prateeksha Bungalow for road widening | सड़क चौड़ी करने के लिए BMC अमिताभ बच्चन के बंगले प्रतीक्षा की दीवार तोड़ेगा, 2017 में दिया था नोटिस

BMC prepares to demolish part of Bollywood Actor Amitabh Bachchan's Prateeksha Bungalow for road widening | सड़क चौड़ी करने के लिए BMC अमिताभ बच्चन के बंगले प्रतीक्षा की दीवार तोड़ेगा, 2017 में दिया था नोटिस

मुंबई8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बृहन्मुंबई नगर निगम (‌BMC) ने सड़क चौड़ी करने के लिए अमिताभ बच्चन के बंगले प्रतीक्षा के एक हिस्से को गिराने की कार्रवाई शुरू कर दी है। बच्चन परिवार को नोटिस दिया था कि उनके बंगले की जमीन का एक हिस्सा संत ज्ञानेश्वर सड़क के लिए BMC ले लेगा। नगर निगम ने अब अपने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वो बंगले का सीमांकन करें।

संत ज्ञानेश्वर मार्ग चंदन सिनेमा के इलाके को इस्कॉन मंदिर की ओर बनी लिंक रोड से जोड़ता है। BMC के मुताबिक, इसी सड़क को चौड़ा करने के लिए अमिताभ के बंगले की दीवार को गिरा दिया जाएगा।

पहले बंगले से सटे प्लॉट की दीवार तोड़ी थी
BMC ने अमिताभ बच्चन को 2017 में नोटिस दिया था। तब अमिताभ बच्चन के बंगले से सटे प्लॉट की दीवार तोड़ दी गई थी और नाला बना दिया गया था। मगर अमिताभ के बंगले के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई थी। नोटिस के बावजूद अमिताभ के बंगले की दीवार न गिराए जाने पर BMC पर सवाल उठाए गए थे। इस पर बीएमसी अधिकारियों ने कोई बयान नहीं दिया है।

प्रतीक्षा के पास सड़क की चौड़ाई एकदम से कम हो जाती है, जिसके कारण वहां जाम लगने की स्थिति हो जाती है। इस रोड पर काफी घना ट्रैफिक रहता है और इसी सड़क पर 2 स्कूल, एक हॉस्पिटल और इस्कॉन मंदिर होने के साथ ही मुंबई के कई स्मारक भी आसपास ही हैं।

प्रतीक्षा में बिग बी की माता-पिता से जुड़ी यादें
अमिताभ बच्चन परिवार के साथ अपने दूसरे बंगले जलसा में रहते हैं। मगर कभी-कभी अपने पुराने बंगले प्रतीक्षा में भी वक्त गुजारने के लिए आते रहते हैं। इस बंगले में अमिताभ बच्चन ने अपने माता-पिता के साथ काफी वक्त गुजारा है।

प्रतीक्षा मुंबई में बच्चन परिवार का पहला बड़ा बंगला है। इसके अलावा अमिताभ के पास जुहू में ही दो और बंगले हैं, जिनका नाम जनक और जलसा है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *