Happy Birthday Bhumi Pednekar: The actress celebrating her 31st birthday said– I wish that I continue to do good work | अपना 31वां जन्मदिन मना रहीं एक्ट्रेस बोलीं- मेरी विश यही है कि मैं अच्छा काम करना जारी रखूं

टॉप न्यूज़

एक घंटा पहलेलेखक: अमित कर्ण

  • कॉपी लिंक

‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा’ में साथ काम कर चुके अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर आनंद एल राय की फिल्म ‘रक्षाबंधन’ में फिर एक साथ नजर आ रहे हैं। आज अपने जन्‍मदिन के मौके पर भूमि ने उससे जुड़े अपने खास जज्‍बात साझा किए हैं। बर्थडे सेलिब्रेट करने के लिए भूमि को रविवार को शूट से एक दिन की छुट्टी मिली है। आज अपना जन्मदिन मना रहीं भूमि ने कहा, “इससे पहले हम एक ऐसी फिल्म कर चुके हैं जो सफल रही थी, जिसे लोगों ने पसंद किया और जिसमें समाज के लिए एक महत्त्वपूर्ण संदेश भी था। मेरे हिसाब से अक्षय सर और मेरी स्‍क्रीन पर एक फील-गुड वैल्यू है और लोगों को पता है कि यदि हम साथ काम कर रहे हैं, तो इसमें मैसेज और मनोरंजन दोनों ही होगा।”

अक्षय कुमार की प्रशंसक हैं भूमि

भूमि ने आगे कहा, “मैं सच्चे दिल से अक्षय सर की प्रशंसक हूं। उन्होंने अपना रास्ता खुद बनाया है और इतनी ऊंचाई तक पहुंचे हैं। उनके इस सफर के कई पहलुओं की मैं वास्तव में प्रशंसा करती हूं, मसलन उन्होंने बड़ा सपना देखा और उसे पूरा किया। मेरी भी कहानी ऐसी ही रही है। मेरा मानना है कि सफलता की कहानी वही होती है, जो लोगों के भी काम आए और उन्हें प्रेरित करे।”

जन्मदिन पर मां और बहन के साथ समय बिताएंगी भूमि

भूमि ने फिल्म ‘रक्षाबंधन’ की शूटिंग से एक दिन के ऑफ का अनुरोध किया था, जो अक्षय और आनंद एल राय ने उन्हें दे दिया। वह अपनी मां सुमित्रा और बहन समीक्षा के साथ समय बिताएंगी और सिर्फ नजदीकी लोगों के साथ जन्मदिन मनाएंगी।

भूमि की जन्मदिन पर यह विश है कि वह अच्छा काम जारी रखें

सोशल एडवोकेसी से जुड़ा प्लेटफॉर्म ‘क्लाइमेट वॉरियर’ चलाने वाली भूमि कहती हैं, “अपनी धरती के बारे में हमें यह समझना होगा कि सब कुछ सीमित है और यदि हम नहीं रुके तो हमारा किस्सा पूरी तरह समाप्त हो जाएगा। करियर के बारे में मेरी विश यही है कि मैं अच्छा काम करना जारी रखूं। पिछले कुछ सालों में मैंने जो लॉयल फैन बनाए हैं, मैं उन्हें निराश नहीं करना चाहती हूं।”

भूमि के रोल्स होते हैं आम जिंदगी से जुड़े

भूमि आगे कहती हैं, “मेरे हिसाब से मैं ऐसे समय में एक्टर बनी हूं जब कंटेंट ने सिनेमा के दूसरे सभी पहलुओं को पीछे छोड़ दिया है। साथ ही हमारे आसपास रहने वाली साधारण सी लड़की जैसी छवि होना मेरे लिए फायदेमंद रहा क्योंकि लोगों को लगता है कि यह उनकी अपनी कहानी है। लोगों ने मुझे ऐसी भूमिकाओं में देखा जिसे वे अपने बीच का समझ सकते हैं। जब उन्होंने मुझे स्क्रीन पर देखा तो कहा कि वे तो इस लड़की को जानते हैं, ये उनकी बेटी या भांजी-भतीजी भी हो सकती है।”

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *