John Abraham’s Satyamev Jayate 2 waits for theaters to open hoping to get strong business on single screens | जॉन अब्राहम की सत्यमेव जयते-2 को सिंगल स्क्रीन्स पर तगड़ा बिजनेस पाने की उम्मीद, थिएटर खुलने का इंतजार

John Abraham's Satyamev Jayate 2 waits for theaters to open hoping to get strong business on single screens | जॉन अब्राहम की सत्यमेव जयते-2 को सिंगल स्क्रीन्स पर तगड़ा बिजनेस पाने की उम्मीद, थिएटर खुलने का इंतजार

मुंबईएक घंटा पहलेलेखक: हिरेन अंतानी

बॉलीवुड की कुछ फिल्में और कुछ स्टार ऐसे हैं, जिनका सिंगल स्क्रीन थिएटर में अलग ही जलवा होता है। जॉन अब्राहम की ‘सत्यमेव जयते-2’ भी ऐसी फिल्म है, वो जब भी रिलीज होगी तब प्रोड्यूसर से लेकर सिंगल स्क्रीन ऑनर्स के लिए फायदेमंद साबित होगी। इसी उम्मीद में इस फिल्म का इंतजार और लंबा होता जा रहा है।

कॉन्फिडेंस इतना कि सलमान से टकराने को तैयार थे
कोरोना की दूसरी लहर के पहले जब फिल्मों की रिलीज डेट प्लान हो रही थी, तब ‘सत्यमेव जयते -2’ को भी सलमान खान की फिल्म राधे के साथ ईद पर रिलीज करने का फैसला लिया गया था। इस फिल्म के मेकर्स को विश्वास था कि सामने सलमान की फिल्म होते हुए भी यह बॉक्स ऑफिस पर दमदार प्रदर्शन कर सकती है।

तीन साल बाद आ रहा है पार्ट-2
सत्यमेव जयते 2018 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में जॉन अब्राहम के साथ मनोज बाजपेयी भी थे। इसमें जॉन अब्राहम के सीरियल किलर जैसे किरदार को काफी पसंद किया गया था। फिल्म 2500 स्क्रीन पर रिलीज हुई थी।

38 करोड़ की लागत से बनी फिल्म ने 79 करोड़ से ज्यादा का बिजनेस किया। इस फिल्म की कमर्शियल सक्सेस को ध्यान में रखते हुए इसके दूसरे पार्ट का प्लान किया गया, लेकिन इसकी कहानी का पहले पार्ट से कोई संबंध नहीं होगा। यह बिलकुल नई कहानी होगी।

जॉन पहली बार डबल रोल में
सत्यमेव जयते-2 के बारे में सबसे खास बात यह है कि जॉन अब्राहम यहां डबल रोल में हैं। यह उनके करियर का पहला डबल रोल है। एक रोल में वह सीधे सादे इंसान हैं और दूसरे रोल में उनका एक्शन देखने को मिलेगा।

मिलाप झवेरी को एक और मौका
बतौर डायरेक्टर मिलाप झवेरी की सत्यमेव जयते बॉक्स ऑफिस पर सक्सेसफुल रही थी। पूरे करियर में वे राइटर के तौर पर ज्यादा सक्सेसफुल रहे हैं। एक राइटर के तौर पर वे शूट आउट एट वडाला, देशी बॉयज, ग्रैंड मस्ती, एक विलेन, हाउसफुल, हे बेबी जैसी फिल्में लिख चुके हैं। सत्यमेव जयते-2 भी उन्होंने ही लिखी है।

ओटीटी डील से ज्यादा फायदा थिएटर में
फिल्म के डायरेक्टर मिलाप झवेरी ने फिल्म की रिलीज के बारे में कुछ भी बताने से इनकार किया। फिल्म से जुड़े दूसरे सूत्रों ने बताया कि पार्ट वन की सक्सेस के बाद मेकर्स को उम्मीद है कि थिएटर रिलीज से उन्हें ज्यादा फायदा मिल सकता है। ओटीटी में जितने की डील मिलती है, इससे ज्यादा कमाई की संभावना थिएटर रिलीज में है।

खुद जॉन ने कहा था ओटीटी पर ज्यादातर कचरा फिल्में आती हैं
कुछ महीने पहले जब इस फिल्म की रिलीज ओटीटी पर हो रही है, ऐसी खबर चली थीं, तब जॉन ने उसे नकार दिया था। जॉन ने तो यह कहा था कि डायरेक्ट ओटीटी रिलीज के लिए जाने वाली ज्यादातर फिल्में कचरा होती हैं। ऐसी फिल्मों को थिएटर रिलीज में ज्यादा उम्मीद नहीं होती।

छोटे शहरों से ज्यादा आमदनी की उम्मीद
ट्रेड एनालिस्ट गिरीश वानखेड़े का कहना है कि जॉन अब्राहम की फिल्में बी और सी टाउन में अच्छी खासी चलती हैं। उस तरह का एक्शन और कहानी सिंगल स्क्रीन पर ठीकठाक बिजनेस करती हैं। दूसरा इस फिल्म में देश प्रेम का तड़का भी है। थिएटर रिलीज के इंतजार के लिए यह कैलकुलेशन हो सकती है।

जॉन के फैन का एक अलग वर्ग है
फिल्म प्रोड्यूसर और ट्रेड एनालिस्ट गिरीश जौहर बताते हैं कि जॉन अब्राहम का अपना फैन क्लब है। जॉन सिंगल स्क्रीन के हीरो हैं। उनका फैन क्लब ही अलग तरह का है। जॉन की मुंबई सागा, सत्यमेव जयते-1, बाटला हाउस, अटैक, जिस्म, धूम, शूटआउट एट वडाला, मद्रास कैफे, टैक्सी नंबर 9211, हाउसफुल-2 आदि छोटे सेंटर पर ज्यादा चली हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *